Friday, February 23, 2024
Google search engine
Homeउत्तराखंडयूसीसी लागू करने वाला देश का पहला राज्य बना उत्तराखंड! सीएम धामी...

यूसीसी लागू करने वाला देश का पहला राज्य बना उत्तराखंड! सीएम धामी ने व‍िधानसभा में पेश किया व‍िधेयक

उत्तराखंड विधानसभा सत्र के दूसरे दिन आज सरकार समान नागरिक संहिता से संबंधित विधेयक सदन में प्रस्तुत हुई। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भारतीय संविधान की एक प्रति के साथ देहरादून स्थित अपने आवास से रवाना हुए। सीएम धामी आज विधानसभा में समान नागरिक संहिता उत्तराखंड 2024 विधेयक पेश किया।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ट्वीट किया, “देवभूमि उत्तराखण्ड के नागरिकों को एक समान अधिकार देने के उद्देश्य से आज विधानसभा में समान नागरिक संहिता का विधेयक पेश किया जाएगा। यह हम सभी प्रदेशवासियों के लिए गर्व का क्षण है कि हम UCC लागू करने की दिशा में आगे बढ़ने वाले देश के पहले राज्य के रूप में जाने जाएंगे। देहरादून में उत्तराखंड विधानसभा के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। समान नागरिक संहिता पर बिल आज सदन में पेश किया जाएगा, जिसके बाद इस पर बहस होगी। ड्राफ्ट को तैयार करने के लिए विशेष समिति का गठन किया गया था। समिति ने 20 माह के कार्यकाल में विभिन्न धर्मों, समूहों, आमजन व राजनीतिक दलों से संवाद कर संहिता का ड्राफ्ट तैयार किया है। चार खंडों व 740 पेज का यह ड्राफ्ट समिति ने दो फरवरी को मुख्यमंत्री को सौंपा। चार फरवरी को हुई कैबिनेट की बैठक में ड्राफ्ट और इससे संबंधित विधेयक पर मुहर लगाई गई। इस बीच विधानसभा सत्र में सोमवार को सदन की कार्यवाही स्थगित होने के बाद हुई कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में मंगलवार के एजेंडे पर विमर्श किया गया। बहुमत से समिति में मंगलवार को प्रश्नकाल व शून्यकाल स्थगित करने का निर्णय ले किया गया। नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने आरोप लगाया कि सरकार सदन की परंपराओं से खिलवाड़ कर रही है। नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य व विधायक प्रीतम सिंह ने बहुमत से प्रश्नकाल व शून्यकाल न होने के विषय पारित होने पर कार्यमंत्रणा समिति से इस्तीफा देने की घोषणा की।

 

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें